एक्सट्रैक्शन रिव्यु : बांग्लादेश की सड़को पर क्रिस हेम्सवर्थ का एक्शन

Extraction Movie Review in Hindi

हाल ही में Netflix पर क्रिस हेम्सवर्थ की फ़िल्म Extraction को रिलीज कर दिया गया। यह फ़िल्म भारतीयों के लिये कुछ ज्यादा ही खास हैं। वैसे तो यह एक हॉलीवुड फ़िल्म हैं लेकिन फ़िल्म को देखते हुए आपको ऐसा लगेगा नही। इस फ़िल्म में अधिकतर सीन भारत और बांग्लादेश की है। फ़िल्म में क्रिस हेम्सवर्थ के साथ डेविड हार्बर, मनोज बाजपाई, रणदीप हूडा, पंकज त्रिपाठी जैसे अभिनेता मौजूद हैं। इस लेख में हम इस एक्सट्रैक्शन के रिव्यु (Extraction Movie Review in Hindi) करने वाले हैं।

क्रिस हेम्सवर्थ हॉलीवुड के बड़े सितारों की लिस्ट में शामिल हैं। मार्वल सिनेमैटिक यूनिवर्स की फिल्मों में उनके थॉर के किरदार की वजह से उन्हें पूरी दुनिया में लोकप्रियता हासिल हुई। क्रिस हेम्सवर्थ अब तक कई बड़ी फिल्मे जैसे की एवेंजर्स, घोस्टबस्टर, थॉर: रेगनोरोक कर चुके हैं। लेकिन क्रिस की फ़िल्म Extraction उनकी पिछली फिल्मो के मुकाबले कही नही लगती। इस फ़िल्म को काफी मिक्स्ड रिव्यूज मिल रहे हैं। कुछ लोग इसे अच्छा बता रहे हैं तो कुछ को फ़िल्म बिल्कुल पसन्द नही आ रही।

इस फ़िल्म की स्क्रिप्ट एवेंजर्स एन्डगेम के डायरेक्टर ‘जो रूसो‘ ने लिखी हैं। फ़िल्म के प्रोड्यूसर उनके भी ‘एंटोनी रूसो‘ हैं। फ़िल्म को सैम हारग्रेव ने डायरेक्ट किया हैं जो पहले कई मार्वल फिल्मो में स्टंट कोऑर्डिनेटर रह चुके हैं। यानी की यह एक छोटा से मार्वल रियूनियन हैं। इस फ़िल्म में आपको अगर कुछ मिलेगा तो वह केवल एक्शन और एक्शन हैं। हा, थोड़े इमोशन्स को भी फ़िल्म में बटोरने की कोशिश की गयी हैं।

एक्सट्रैक्शन (2020) समीक्षा – Extraction Movie Review in Hindi

Extraction Movie Review in Hindi

इस फ़िल्म में क्रिस हेम्सवर्थ ने ‘टाइलर रेक‘ नाम के एक फाइटर का किरदार निभाया हैं। टाइलर लोगो से उनके मार-धाड़ के काम के बदले में पैसे लेता हैं। वह अपनी टीम के साथ काम करता हैं। इस फ़िल्म की कहानी मुम्बई के एक ड्रग माफिया के बेटे ओवी महाजन के किडनेप से शुरू होती हैं। ओवी को बचाने के लिए टाइलर को हायर किया जाता हैं। टाइलर बांग्लादेश जाता हैं और ओवी को छुड़ाता हैं।

टाइलर को देने के लिए ड्रग माफिया के पास अधिक पैसे नही थे। इस वजह से ड्रग माफिया का खास आदमी साजु (रणदीप हूडा) टाइलर को मारकर बच्चे को लाने का प्लान बनाता हैं। अगर वह ऐसा नही करता तो ड्रग माफिया उसके परिवार को मार देता। इसी बीच में बच्चे को किडनैप करने वाला बांग्लादेश का गुंडा बच्चे को वापस लाने में लगा होता हैं।

किडनेपर पूरे शहर में नाकाबंदी कर देता हैं। गुंडो से लेकर पुलिस तक सभी को टाइलर को मारने का आर्डर मिलता हैं। वह सभी टाइलर के पीछे पड़े होते है और इस बीच टाइलर को साजु से भी भिड़ना पड़ता हैं।

इसके बाद टाइलर अपने एक दोस्त (डेविड हार्बर) से मदद मांगता हैं। लेकिन डेविड हार्बर भी उस लड़के को किडनैपर को सौपकर 70 करोड़ का इनाम जितना चाहता था। टाइलर का लड़के को लेकर मूड बदल चुका था। उसे इस वक्त केवल पैसा से मतलब नही था। इसलिए गह डेविड से लड़ता है। डेविड हार्बर और क्रिष हेम्सवर्थ के बीच लड़ाई होती हैं।

लेकिन इस लड़ाई में क्रिस पर डेविड भारी पड़ते हैं। लेकिन वह छोटा लड़का आकर डेविड को गोली मार देता हैं। लेकिन इस बीच यह समझ नही आता की जिस 6.3 फुट के टाइलर ने इतने लोगो को मार दिया वह डेविड हार्बर से इतना क्यों पिट गया?

इसके बाद में टाइलर साजु से लड़के को ले जाने के लिए कहता हैं। इसके लिए वह पूल पर करने का प्लान बनाते हैं। इस बीच हमे जबरदस्त एक्शन सीन दिखता हैं। लेकिन बच्चे को बचाने के लिए साजु मारा जाता हैं। टाइलर भी आखिर में 2 गोली खाकर नदी में गिर जाता हैं। इसके बाद टाइलर की टीम बच्चे को ले जाती हैं।

इसके बाद एक दिन टाइलर की एक टीममेट किडनैपर को मार देती हैं। एक सीन दिखाई देता हैं जिसमे ओवी स्वीमिंगपूल सर बाहर निकलता हैं और एक व्यकि की तरफ देखता हैं। वह सीन थोड़ा धुंधला था। शायद टाइलर अब भी ज़िंदा हैं।

खैर फ़िल्म की कहानी के बारे में कुछ ज्यादा नही कहा जा सकता। इसे एक दमदार कहानी नही कहते। अगर आप इसे कहानी न समझकर एक किस्से की तरह लो तो फ़िल्म देखने में अधिक मजा आएगा। आप फ़िल्म को अंत तक देखने के बाद भी किसी किरदार के बारे में कुछ खास नही जान पाओगे। न ही विलेन के बारे में ज्यादा कुछ खास बताया गया।

Extraction (2020) Review in Hindi

इस फ़िल्म में बस आपको एक्शन ही एक्शन मिलेगा। ऐसा लगता हैं की क्रिस हेम्सवर्थ बांग्लादेश की सड़को पर पब्जी खेल रहे है। अगर आपको जॉन वीक फ्रेंचाइजी की फिल्मे पसन्द हैं तो यह फ़िल्म जरूर देखे। इसे जॉन वीक जितना बेहतर बिल्कुल नही कहा जा सकता। फ़िल्म को मिलने वाले पब्लिक रिव्यूज भी कुछ खास नही हैं।

IMDB पर फ़िल्म को फिलहाल 10 में 7 रेटिंग्स दी हुई हैं। अगर इस फ़िल्म में सबसे खास बात ढूंढी जाए तो वह यही हैं की फ़िल्म में बांग्लादेश और भारत को काफी अच्छे से जोड़ा गया। उसके हिसाब से एक्शन सीन्स बनाये गये हैं जो फ़िल्म को बेहतर बनाता है। फ़िल्म में लगभग सभी कलाकारों ने बेहतर अभिनय किया हैं।

खैर, HindiHollywood की टीम इस फ़िल्म को 6.5/10 से अधिक रेटिंग्स नही दे सकती। इस फ़िल्म को इसकी कहानी कमजोर बनाती हैं जो शायद थोड़ी बेहतर हो सकती थी। तो यही था हमारी क्रिस हेम्सवर्थ की फ़िल्म एक्सट्रैक्शन को लेकर सोच! (Extraction Movie Review in Hindi) अगर आपको एक्शन फिल्मे देखने का शौक है तो यह फ़िल्म आपको जरूर देखनी चाहिये।