पिछली फिल्मो से बेहतर हैं टर्मिनेटर : डार्क फेट, जानिए 5 कारण

फिल्मों का मार्केट आप पहले जैसे नहीं रहा। अब बॉक्स ऑफिस पर केवल वही फिल्में अच्छी चलती है जिनमें कुछ ना कुछ खास बात होती है। अगर भारतीय बॉक्स ऑफिस की बात करें तो अब हॉलीवुड फिल्में भी बॉक्स ऑफिस में कमाल मचाने लगी है। इस साल रिलीज हुई मार्वल स्टूडियोज की सुपर हीरो फिल्म एवेंजर्स एंडगेम भारत में सबसे अधिक कमाने वाली पांचवीं फ़िल्म बन चुकी हैं।

अगर देखा जाए तो भारत में अधिकतर किसी फ्रेंचाइजी से जुड़े हुए हॉलीवुड फिल्में ही पसंद की जाती है चाहे हम मेन इन ब्लैक की बात करें या फिर मार्वल स्टूडियोज की फिल्मों की बात करें। भारत में सबसे अधिक पसंद की जाने वाली हॉलीवुड फ्रेंचाइजी में से एक टर्मिनेटर फ्रेंचाइजी भी है। टर्मिनेटर फ्रेंचाइजी उन गिनी चुनी बेहतरीन फ्रेंचाइजी में से एक है जो आज भी बॉक्स ऑफिस पर कमाल करती है और यह किसी कॉमिक बुक किरदारों पर आधारित नहीं है। वरना अधिकतर लोकप्रिय फ्रेंचाइजी किसी ने किसी कॉमिक बुक किरदार पर ही आधारित है।

टर्मिनेटर फ्रेंचाइजी अब तक की सबसे बेहतरीन और लोंग्लास्टिंग साइंस फिक्शन एक्शन आधारित फ्रेंचाइजी में से एक है। इस फ्रेंचाइजी की शुरुआत करीब 35 साल पहले आई फिल्म द टर्मिनेटर से हुई थी। उस समय शायद ही फिल्म मेकर्स ने सोचा होगा कि यह फिल्म एक पूरे टर्मिनेटर यूनिवर्स में बदल जाएगी लेकिन फिल्म की सफलता को देखते हुए एक के बाद एक फिल्में बनती गई और यह हॉलीवुड की सबसे बेहतरीन साइंस फिक्शन एक्शन फ्रेंचाइजी की लिस्ट में शामिल हो गई।

लेकिन इस फ्रेंचाइजी की पिछली कुछ फिल्में बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप साबित हुई है और इस वजह से टर्मिनेटर फ्रेंचाइजी का अस्तित्व खतरे में पड़ चुका है। हाल ही में रिलीज हुई फ्रेंचाइजी की फिल्म टर्मिनेटर डार्क फेट भी बॉक्स ऑफिस पर कोई खास कमाल नहीं कर रही हैं। लोगों का कहना है कि यह फिल्म फ्रेंचाइजी की सबसे बुरी फिल्मों में से एक है लेकिन फिर भी कुछ मामलो में यह फिल्म फ्रेंचाइजी की पिछली फिल्मो से अधियो बेहतरीन हैं। हम आज उन्ही के बारे में बात करेंगे।

1. गर्ल पावर : फ्रेंचाइजी की पिछली सभी फिल्मों में मुख्य तय है हमें लीड रोल में पुरुष ही दिखे हैं जबकि इस फिल्म में हमें गर्ल पावर का एक नमूना देखने को मिला हैं जो यह साबित करता है कि लड़कियां किसी से कम नहीं होती। अभिनेत्री सराह कॉनर के किरदार को फ़िल्म में काफी ज्यादा पसंद भी किया जा रहा है।

2. बेहतरीन स्पेशल इफ़ेक्ट्स : शायद आपने यह बात नोटिस क्योंकि की फ्रेंचाइजी की सभी फिल्मों में इस फिल्म के स्पेशल इफेक्ट्स सबसे ज्यादा बेहतर है। वैसे तो फ्रेंचाइजी वीएफएक्स और स्पेशल इफेक्ट के मामले में शुरुआत से ही बहुत आगे रही है लेकिन फिर भी कुछ फिल्मों का वीएफएक्स फीका से लग रहा था। लेकिन टर्मिनेटर डार्क फेट के साथ ऐसा कुछ नहीं हैं।

3. बेहतरीन टेक्नोलॉजी : इस बात में कोई शक नहीं कि टर्मिनेटर डार्क फेट में दिखने वाली है टेक्नोलॉजी पिछली सभी फिल्मों से ज्यादा बेहतर थी। इस फ़िल्म में हमें काफी सारे गैजेट्स और अलग अलग तरह की लाजवाब टेक्निक्स देखने को मिली थी जो हर किसी को पसन्द आयी होगी। शायद इसी कारण इस फ्रेंचाइजी का नाम सबसे बेहतरीन साइंस फिक्शन फिल्म फ्रेंचाइजी में शामिल हैं।

4. एक नई वारियर : इस फ्रेंचाइजी में हमें एक नई वाली और देखने को मिली है जो कि एक अच्छी बात हैं। एक नेगेटिव बात यह भी है कि हमें एक नई वारियर तो देखने को मिली है लेकिन वह एक ओल्ड वारियर है जिस वजह से काफी लोगों को एक्शन सीन्स सटीक नहीं लगे होंगे। लेकिन अगर पॉजिटिव तरीके से देखा जाए तो हमे टर्मिनेटर फ्रेंचाइजी में एक और नई वारियर देखने को मिली हैं।

5. शानदार एक्शन : अब जब टर्मिनेटर फ्रेंचाइजी हॉलीवुड की जानी-मानी एक्शन फ्रेंचाइजी हैं तो इस बात में कोई शक नहीं कि हमें हर फिल्म में धमाकेदार एक्शन देखने को मिला है। लेकिन टर्मिनेटर डाक फेट का एक्शन एक अलग लेवल का था। यह बात हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि इसमें हमेशा इंस्पेक्शन लड़ाई तो देखने को मिली और साथ में हैंड टू हैंड कॉम्बैट भी नजर आया जो वाकई में फ्रेंचाइजी को एक अलग लेवल पर ले जाता हैं।

अच्छे कुछ सालों पहले तक टर्मिनेटर हॉलीवुड की सबसे अधिक प्रॉफिटेबल फ्रेंचाइजी में गिनी जाती थी लेकिन इसकी पिछली कुछ फिल्में लोगों को पसंद नहीं आई। ऐसा नहीं है कि इन फिल्मों में कमियां है बल्कि इसका सबसे बड़ा कारण है कि मार्केट में कंपटीशन काफी ज्यादा बढ़ चुका है और मार्वल सिनेमैटिक यूनिवर्स, डीसी एक्सटेंडेड यूनिवर्स, स्टार वार्स जैसी फिल्मों को लोग अधिक पसन्द करने लगे हैं। खबरे हैं की डार्क फेट टर्मिनेटर फ्रेंचाइजी का आज साबित होगी लेकिन अगर यह खबरे सच हुई तो टर्मिनेटर फैंस को बड़ा झटका लगेगा।